अंगूर खट्टे है / The Grapes Are Sour

अंगूर खट्टे है / The Grapes Are Sour

एक बार एक लोमड़ी बहुत भूखी थी. वह भोजन की तलाश में इधर – उधर भटकती रही लेकिन कही से भी उसे कुछ भी खाने को नहीं मिला. अंत में थक हारकर वह एक बाग़ में पहुँच गयी. वहां उसने अंगूर की एक बेल देखी. जिसपर अंगूर के गुच्छे लगे थे.

वह उन्हें देखकर बहुत खुश हुई. वह अंगूरों को खाना चाहती थी, पर अंगूर बहुत ऊँचे थे. वह अंगूरों को पाने के लिए ऊँची – ऊँची छलांगे लगाने लगी.

किन्तु वह उन तक पहुँच न सकी. वह ऐसा करते – करते बहुत थक चुकी थी. आखिर वह बाग से बाहर जाते हुए कहने लगी कि अंगूर खट्टे है. अगर मैं इन्हें खाऊँगी तो बीमार हो जाउंगी.

इस कहानी से शिक्षा :

कभी भी हो हमें हर चीज या हालात में हमेशा अच्छाई ढूंढनी चहिये. हम अगर कोई चीज प्राप्त न कर सके तो उसे बुरा नहीं कहना चाहिए.

बहुत सारे लोगो की यह प्रॉब्लम होती है की वह अगर किसी चीज में सफल नहीं हुए या कोई काम कर न सके तो वह खुद में कमियां देखने के बजाय उस काम में ही कमियाँ निकालने लगते है. हमें लोमड़ी की तरह अंगूर खट्टे है कभी नहीं बोलना है.

Read In English

Once a fox was very hungry. She wandered here and there in search of food, but could not find anything to eat from anywhere.

Finally exhausted, she reached a garden.

There he saw a vine of grapes. On which were clumps of grapes.

She was very happy to see them. She wanted to eat grapes, but the grapes were very high. She started putting high and low ghouls to get the grapes.

But she could not reach them. She was very tired while doing so.

Finally, she went out of the garden and said that the grapes are sour. If I eat them, I will get sick.

Learnings From This Story:

We should always find goodness in everything or the situation. If we cannot get anything, then it should not be called bad.

Many people have the problem that if they do not succeed in anything or cannot do any work, then instead of seeing the shortcomings in themselves, they start making shortcomings in that work.

We have to never say grapes are sour like foxes.

कहानी सुनने के लिए ऑडियो को प्ले करिये

अंगूर खट्टे है / The Grapes Are Sour

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Don`t copy text!